फ्रेंडशिप डे – Friendship Day

फ्रेंडशिप डे – Friendship Dayफ्रेंड (दोस्त) एक ऐसा शब्द है जो इस दुनिया में मौजूद सभी व्यक्तियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है, क्यों कि हर एक व्यक्ति के जीवन में उसका कोई न कोई फ्रेंड होता है जो उसके हर सुख-दुःख का साथी होता है | और फ्रेंड वह होता है जो अपने फ्रेंड के लिये किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार रहता है | माता-पिता, भाई-बहन के अतिरिक्त फ्रेंड ही वह व्यक्ति होता है जिस पर हम सबसे ज्यादा भरोसा करते हैं क्यों कि परिवार के बाद वही एक ऐसा भरोसेमंद व्यक्ति होता है जिससे हम सभी प्रकार कि उम्मीद रख सकते हैं और रखते भी हैं और ऐसे जिंदादिल दोस्त के लिए साल में एक ऐसा दिन आता है जिसे हम फ्रेंडशिप डे के रूप में सेलिब्रेट करते हैं |

 फ्रेंडशिप  डे - Friendship Day
friendship Day
फ्रेंडशिप डे हर कोई मनाता है और मेरा काम है कि हम किसी भी पर्व को मनाये या किसी भी प्रकार का सेलिब्रेशन करते हैं तो मैं उसकी शुरुआत से बताने कि कोशिश करता हूँ जिससे कि पढ़ने वाले पाठकों को यह पता चल सके कि हम जो कथा, कहानी, पर्व इत्यादि मानते हैं तो उसकी शुरुआत कहाँ से हुई है उसके बारे में पूरी जानकारी हमें पता चल सके|

Friendship Day कि शुरुवात करने वाले व्यक्ति हैं Hallmarks Cards के संस्थापक Joyce Hall जिनका व्यवसाय था कार्ड्स प्रिंट्स करना और उन्हों ने इसे एक नया रूप देने के लिए और दो लोगों के बीच में दो दोस्तों के बीच में एक आदर-सदव्यवहार और प्रेम बढ़ सके इसलिए इसकी शुरुवात की थी और वह दिन था 2nd August 1930 का | पर यह प्रचालन १९२० से ही चला आ रहा था क्यों कि Joyce Hall का व्यवसाय कार्ड्स प्रिंटिंग का था और उन्होंने ही वीकेंड सेलिब्रेशन के लिए और दुसरे को ग्रीट करने के लिए ही फ्रेंडशिप डे को शुरू किया और अगर देखा जाये तो यह एक business strategy थी जिसे बाद में एक उत्सव का रूप दे दिया गया |

और इसे एक वैश्विक मैत्री के दिन देने का श्रेय Dr. Rowman Artimiyo Bakron को जाता है,इन्होंने २० जुलाई १९५८ को इसका प्रस्ताव रखा था और इस वर्ल्ड फ्रेंडशिप डे को मानाने के पीछे एक यह भी उद्देश्य था कि दुनिया के लोग धर्म-जाति, रंग-भेद से ऊपर उठकर आयें और दुनिया के सभी लोगों के मध्य एक-दूसरे के प्रति मैत्री को भावना उत्पन्न हो और देखते ही देखते फ्रेंडशिप डे दुनियाभर में प्रसिद्ध हो गया |

पर अगर देखा जाये तो यह बहुत ही अच्छा हुआ इससे दो दोस्तों को सालभर में एक ऐसा दिन मिलता है जिस पर वह एक दुसरे को सहृदय गले मिलाकर और फ्रेंडशिप डे पर एक फ्रेंडशिप बैंड बांध कर इसे सेलिब्रेट करते हैं और देखा जाये तो इससे दोस्ती के रिश्ते मजबूत होते हैं | यह साल का एक ऐसा दिन होता है जो हर किसी दोस्त के लिए यादगार बन जाता है और फ्रेंडशिप डे के दिन बीते साल कि पुरानी यादें भी ताजा हो जाती है और यह एहसास होता है कि यही वह व्यक्ति है जो जिंदगी के हर मोड़ पर हर सुख-दुःख पर मेरे साथ रहेगा मेरा साथ देगा मुझे राह दिखायेगा और सही गलत में फर्क बतायेगा |

जिंदगी के किसी भी हालत में मुझे डगमगाने नहीं देगा हर परिस्थिति में मेरे साथ रहेगा और मेरे लिए यही वह व्यक्ति है जो बड़ी से बड़ी मुसीबत के समय अपना सीना लेकर सामने खड़ा हो जाएगा पर मुझ पर कभी आंच नहीं आने देगा, मेरी हर समस्या के लिये मेरे दोस्त के पास कोई न कोई उपाय होगा ही होगा यह हमारा हमारे दोस्त पर एक अटूट विश्वाश होता है और यही एक सच्चे दोस्त कि खूबियाँ होती हैं| और हर कोई व्यक्ति चाहता है कि साल के इस एक दिन को अपने दोस्त को प्यार से समर्पित करे क्यों कि फ्रेंडशिप डे साल में एक ही बार तो आता है | चलिये एक दुसरे को दोस्त बनायें और एक हंसी ख़ुशी दुनिया भी बनाये आप भी इस फ्रेंडशिप डे पर ऐसा संकल्प लीजिये |

2 thoughts on “फ्रेंडशिप डे – Friendship Day

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *